शेयर मार्केट में शुरुआत कैसे करें?

आज के समय मे बहुत से लोग Share Market को पैसे कमाने का ज़रिया बना चुके हैं। भारत मे हर साल नए निवेशकों (Investors) की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। लेकिन बहुत से लोग शेयर मार्केट में निवेश करने से डरते हैं।

अगर आप भी शेयर बाज़ार में उतरना चाहते हैं और शेयर मार्केट की कम जानकारी होने की वज़ह से डर रहे हैं तो यह पोस्ट ज़रूर पढ़े।

तो जानते हैं शेयर मार्केट में शुरुआत कैसे करें?

Share Market क्या है?

Share market in hindi - शेयर मार्किट गाइड- जाने शेयर मार्किट के बारे में details में.

Share market in Hindi

Share का अर्थ होता है ‘हिस्सेदारी’। Share Market एक ऐसा मार्केट है जहाँ पर आप किसी रजिस्टर्ड कम्पनी के शेयर ख़रीद या बेच सकते हैं। इन शेयरों को Stock Exchange के ज़रिए ख़रीदा और बेचा जाता है।

भारत मे दो मुख्य Stock Exchange हैं।

  1. BSE ( Bombay Stock Exchange )
  2. NSE ( National Stock Exchange )

किसी कंपनी में शेयर या हिस्सेदारी ख़रीदने का मतलब है उस कम्पनी के कुछ हिस्से के आप मालिक हैं। मान लीजिए कोई कंपनी 20 प्रतिशत हिस्सेदारी बेच रही है आपने उसमें से 2 प्रतिशत के हिसाब शेयर ख़रीद लिए हैं तो आपका उस कंपनी के 2 प्रतिशत हिस्से पर मालिकाना हक हो जाता है।

Share Market से पैसे कैसे कमायें?

(How to earn with Share market?)

हम सब जानते हैं कि शेयर मार्केट से कम समय में ज्यादा पैसा कमाया जा सकता है। लेकिन यह बहुत Risky भी है। लेकिन अगर आप किसी कंपनी के बारे में अच्छे से Analysis करलें तो आप भी Share Market से पैसे कमा सकते हैं।

किसी कंपनी के शेयर की कीमत उस कंपनी को होने वाले profit & loss और शेयर की Demand और supply पर निर्भर करता है। इसी Demand and Supply के कारण शेयर मार्केट में शेयर की कीमत घटती-बढ़ती रहती है।

अगर किसी शेयर का क्वार्टरली प्रॉफिट, मार्केट ग्रोथ अच्छा है तो आप उस शेयर की डिमांड औऱ सप्लाई को Analyze करके उसमें Long term या short term टारगेट बनाकर निवेश कर सकते हैं और प्रॉफिट बुक करके शेयर बेच सकते हैं।

अगर कोई कंपनी या फर्म का शेयर आज 10 रुपये का है औऱ आप उसके 1000 शेयर यानी 10000 रुपये के शेयर ख़रीद लेते हैं। मार्केट में उस शेयर की ज्यादा डिमांड होने के कारण 1 हफ्ते में वह 14 रुपये का हो जाता है तो आपको 4 रुपये प्रति शेयर यानी 4000 रुपये का प्रॉफिट मिल जाएगा।

शेयर मार्केट में शुरुआत कैसे करें?

(How to get started in share market in Hindi?)

Share market me shuruat kaise kare?

शेयर मार्केट में शुरुआत कैसे करें?

Share Market में उतरने से पहले आपको 3 चीज़ों की आवश्यकता होगी।

  1. Trading Account
  2. Market Analysis
  3. Investment Capital

Trading Account – ट्रेडिंग अकाउंट

शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करने के लिए आपको Trading Account की ज़रूरत होती है। ट्रेडिंग एकाउंट एक बैंक एकाउंट की ही तरह होता है। इसका इस्तेमाल शेयर ख़रीदने/बेचने के लिए किया जाता है।

जब आप शेयर बेचते हैं तो उसके पैसे आपके ट्रेडिंग एकाउंट में भेज दिए जाते हैं। वहीं जब आप शेयर खरीदते हैं तो उस शेयर की कीमत आपके ट्रेडिंग एकाउंट से डेबिट हो जाती है।

आज-कल बहुत Broking Firms हैं जो Trading account प्रोवाइड करती हैं। जैसे-

  • Zerodha
  • Upstox
  • Paytm Money
  • Sharekhan
  • 5paisa
  • Kotak Securities
  • Angel broking
  • Indiabulls

इसके अलावा भी बहुत से ब्रोकर हैं जिनके प्लेटफॉर्म पर आप अपना ट्रेडिंग एकाउंट खुलवा सकते हैं। ट्रेडिंग एकाउंट खोलने के लिए आपको platform fee और KYC charges देने होते हैं जो कि सबका अलग अलग होता है।

Market Analysis – मार्केटिंग एनालिसिस

अब बारी आती है Market Analysis की, जिसमें आपको किसी stock में इन्वेस्टमेंट से पहले उसके बारे में रिसर्च करते हैं।

मान लीजिये किसी stock में आप निवेश करना चाहते हैं। तो आप उनमें कुछ ज़रूरी चीज़े देंखें। जैसे-

  • Market Capital
  • Liquidity
  • EPS
  • P/B ratio
  • P/E ratio

यह चीज़े आपको बेहतर स्टॉक सेलेक्ट करने में हेल्प करेगा। साथ ही साथ आपको स्टॉक के फ्यूचर प्लान को भी जान लेना चाहिए और उससे जुड़ी जानकारियों से समय समय पर अपडेट रहना चाहिए। Share market या किसी भी स्टॉक से जुड़ी जानकारी आप Moneycontrol और Investing जैसे प्लेटफ़ॉर्म से ले सकते हैं।

Long या short term investment के लिए Candle Chart analysis आना बहुत ज़रूरी है।

Investment Capital – इन्वेस्टमेंट कैपिटल

यह Capital आपका वह बजट होता है जिससे आप ट्रेडिंग करने के लिए इस्तेमाल करने वाले होते हैं। अगर आप एक नए निवेशक हैं तो केवल long term stocks में ही निवेश करें।

वहीं दूसरी ओर आप अगर जल्दी पैसे कमाना चाहते हैं तो आप short term Investment या Intraday trading कर सकते हैं। लेकिन इसके लिए आपका Risk Appetite अच्छा होना चाहिए। यानी आप ऐसे ट्रेड में केवल उतना ही कैपिटल इस्तेमाल करें जिसमें आपका loss भी हो जाये तो आपको ज्यादा फ़र्क न पड़े। इसे जोख़िम लेने की क्षमता कहते हैं।

Share कैसे ख़रीदे या बेंचे?

(How to buy or sell a share?)

किसी शेयर को ख़रीदने या बेचने के लिए अपना ब्रोकिंग प्लेटफ़ॉर्म का वेब / मोबाइल एप्लीकेशन ओपन करें।

वहाँ search bar में उस कंपनी या स्टॉक का नाम डालें जिसके शेयर आप ख़रीदना/ बेचना चाहते हैं।

अगर आप वह स्टॉक BSE या NSE में से किसी एक स्टॉक एक्सचेंज मे ख़रीदना/बेचना चाहते हैं तो आप ख़रीद या बेच सकते हैं।

अब शेयर ख़रीदने के लिए आपको हरे रंग के buy ऑप्शन पर क्लिक करना होगा जबकि बेचने के लिए लाल रंग के sell ऑप्शन पर क्लिक कर होगा । उसके बाद आपको कुछ चीज़ें भरनी होंगी। जैसे –

Quantity – इसमें आपको no. of shares भरना होगा। यानी आप कितने शेयर ख़रीदना या बेचना चाहते हैं।

Market price – यदि आप हाल ही में चल रहे शेयर के भाव पर उसे ख़रीदना या बेचना चाहते हैं तो आपको Market Price पर टिक करना होगा।

Custom/limit price – अगर आप अपने से तय किये गए भाव पर शेयर ख़रीदना/बेचना चाहते हैं तो आपको custom/limit price पर टिक करना होगा और तय किया हुआ भाव डालना होगा। जैसे ही शेयर की क़ीमत इस भाव पर आएगा आपका आर्डर execute हो जाएगा।

Delivery/ Intraday – जब आपको शेयर एक से ज़्यादा दिन के लिए रखना होता है तब आपको शेयर Delivery में ख़रीदना चाहिए।

वहीं दूसरी ओर जब आपको शेयर उसी दिन ख़रीदकर उसी दिन बेचना है तो आपको intraday में शेयर ख़रीदना होगा।

AMO order क्या होता है?

(What is AMO order in Hindi?)

‘After Market Order’ को AMO order कहते हैं। यानी इससे आप शेयर मार्केट बंद होने के बाद शेयर ख़रीदने या बेचने के लिए आर्डर लगा सकते हैं।

शेयर मार्केट अपने आम ट्रेडिंग डे में सुबह 9:15 से लेकर शाम को 3:15 तक खुला रहता है। इस समय को एक ट्रेडिंग डे माना जाता है। इसके बाद आप कोई भी शेयर ख़रीद या बेच नहीं सकते। 3:15 के बाद आप केवल AMO order में ही शेयर ख़रीद या बेच सकते हैं जो कि अगले ट्रेडिंग डे में execute होगा।

Share Market में शुरुआत करने से पहले ज़रूरी बातें –

  • आपको केवल उसी स्टॉक या शेयर में निवेश करना चाहिए जिसमें Liquidity ज्यादा हो। यानी इसमें शेयर ख़रीदने और बेचने वाले दोनों अच्छी ख़ासी संख्या में हो।
  • High Volume Stocks का चुनाव करें। यानी वे stocks जिसमें ज्यादा शेयर्स ख़रीदने या बेचने के लिए मौजूद हों।
  • Low Volume stocks से दूर रहें। यह भले आपको कम समय मे high profit दे सकते हैं लेकिन इसमें Loss होने का ख़तरा भी बहुत ज्यादा होता है।
  • एक Beginner को intraday trading से दूर रहना चाहिए। यह केवल उन लोगों के लिये है। जिसका Risk Appetite ज्यादा होता है। जिन्हें कुछ पैसे loss हो जाने से ज़्यादा फर्क नहीं पड़ता।
  • यह बात ध्यान रखें कि जब आप शेयर्स खरीदते या बेचते हैं तो यह प्रोसेस दो निवेशकों के बीच आपस मे शेयर ख़रीदा या बेचा जाता है। Stock Exchange केवल आपको प्लेटफॉर्म देता है।

ये भी जाने –

Leave a Reply

error: